प्रशासक प्रफुल पटेल ने मृत सरकारी कर्मचारियों के 18 आश्रितों को सौंपा सरकारी नौकरी का प्रमाणपत्र - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Tuesday, March 19, 2019
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • प्रशासक प्रफुल पटेल ने मृत सरकारी कर्मचारियों के 18 आश्रितों को सौंपा सरकारी नौकरी का प्रमाणपत्र
    - 17 विधवाओं में से 7 दमण की और 10 दीव की है लाभार्थी
    दमण, 08 मार्च। दमण-दीव प्रशासन के कार्मिक एवं प्रशासनिक सुधार विभाग ने आज स्वामी विवेकानंद सभागार में अनुकम्पा नियुक्ति कार्यक्रम का आयोजन किया। इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल के हाथों 18 मृत सरकारी कर्मचारियों के आश्रितों को सरकारी नौकरी का प्रमाणपत्र सौंपा गया। इस दौरान सांसद लालू पटेल, प्रशासक के सलाहकार एस. एस. यादव, डी. ए. सत्या, वित्त सचिव देविन्द्र सिंह, कलेक्टर संदीप कुमार सिंह, कार्मिक सचिव ए. मुथम्मा, कार्मिक उपसचिव गुरप्रीत सिंह, प्रदेश भाजपाध्यक्ष गोपाल टंडेल (दादा), जिला पंचायत प्रमुख सुरेश पटेल, डीआईए प्रमुख रमेश कुंदनानी, पुलिस अधीक्षक विक्रमजीत सिंह सहित के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि विश्व महिला दिवस पर प्रदेश की 17 बहनों को सरकारी नौकरी में स्थान देने का मुझे अवसर मिला है यह मेरे जीवन की महत्वपूर्ण घटना है। उन्होंने इन परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए कहा कि इतने वर्षों के बाद इन परिवारों को न्याय मिला है। प्रशासक प्रफुल पटेल ने कहा कि सामान्य परिवार में जिसकी आय से पूरा परिवार चलता है, परिवार का गुजर-बसर होता है, उस व्यक्ति के चले जाने से उस परिवार पर क्या गुजरती है इसका अंदाजा नहीं लगाया जा सकता। उन्होंने कहा कि मेरे हाथों से इन परिवारों को नौकरी देने का अवसर प्राप्त हुआ है इसके लिए मैं प्रशासन की पूरी टीम को धन्यवाद देता हूँ। सांसद लालू पटेल ने अनुकम्पा नियुक्ति के तहत 17 विधवाओं और 1 युवक समेत 18 व्यक्तियों के पालक की मृत्यु के बाद परिवार के निर्वाह के लिए आश्रितों को सरकारी नौकरी देने पर प्रशासक प्रफुल पटेल की सराहना की। उन्होंने कहा कि पुर्तगाली राज के बाद दमण-दीव में मृत सरकारी कर्मचारी के आश्रितों को अनुकम्पा के आधार पर सरकारी नौकरियां मिलती थीं, जो बाद में चलकर मिलनी बंद हो गईं। अब एक बार फिर प्रशासक प्रफुल पटेल ने इन 18 आश्रित व्यक्तियों की बेबसी को समझते हुए उन्हें अनुकम्पा नियुक्ति प्रदान करते हुए सरकारी नौकरियों से लाभान्वित किया है। यह संतोष की बात है कि इनमें भी 17 महिलाओं को अनुकम्पा नौकरी दी गई है वो भी विश्व महिला दिवस के दिन, यह हमेशा अविस्मरणीय रहेगा। प्रशासक के सलाहकार एस. एस. यादव ने कहा कि 2011 के बाद दमण-दीव में आज लोगों को अनुकम्पा के आधार पर सरकारी नौकरियाँ प्रदान की जा रही हैं। इसका श्रेय प्रशासक प्रफुल पटेल को देते हुए उन्होंने कहा सेवाकाल दौरान मृत सरकारी कर्मियों की विधवाओं की तकलीफों को समझते हुए उन्हें नौकरियां प्रदान करने का निश्चय किया। कार्मिक उपसचिव गुरप्रीत सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि 45 अर्जियों में से सर्वाधिक जरूरतमंद 18 व्यक्तियों को अनुकम्पा नियुक्ति का लाभ दिया गया है। इसमें 15 व्यक्तियों को एमटीएस, 2 को एलडीसी और 1 को पुलिस कांस्टेबल की नौकरी प्रदान की गई है। इस अवसर पर दमण जिला भाजपा अध्यक्ष दिपेश टंडेल, पवन अग्रवाल, सत्येंद्र कुमार, कानजी ढांगरा, बालू पटेल, तरुणा पटेल, सिंपल काटेला, लक्ष्मी माछी, राजेश्री भट्ट, अनिल टंडेल सहित के महानुभावों की उपस्थिति रही।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS