लोकसभा और राज्यसभा में पीएम मोदी का 2002 वाला दिखा अंदाज - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Wednesday, October 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • लोकसभा और राज्यसभा में पीएम मोदी का 2002 वाला दिखा अंदाज
    - कांग्रेस ने अन्याय न किया होता तो सरदार पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री होते और समुचा कश्मीर हमारा होता: मोदी - कांग्रेस ने देश की तरक्की पर ध्यान नहीं दिया, कांग्रेस के नेताओं ने एक ही परिवार को पूजा : पीएम मोदी - कांग्रेस अपने शासन का बखान करती है आपने मॉँ भारती के टुकडे किये, फिर भी देश आपके साथ रहा: नरेन्द्र मोदी - मैं थकने वालों में से नहीं, आप जितना कीचड उछालोगे उतना ही कमल खिलेगा: नरेन्द्र मोदी
    नई दिल्ली (ईएमएस)। विपक्ष के शोर-शराबे के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को लोकसभा में कांग्रेस के आरोपों का जवाब दिया। राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव का जवाब देते हुए मोदी ने कांग्रेस और नेहरू-गांधी परिवार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने बिना नाम लिए जहां कांग्रेस के परिवारवाद पर ताना मारा, वहीं सहयोगी दलों का गुणगान कर उन्हें साधने की कोशिश की। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में आंध्रप्रदेश और चुनावी राज्य कर्नाटक का कई बार जिक्र किया। उन्होंने अपने भाषण में कभी शायरी की तो कभी आंकड़ों से कांग्रेस के हर आरोप को खारिज कर दिया। मोदी ने कांग्रेस पर आक्रामक तरीके से विभाजन का आरोप लगाया और कहा, आपके चरित्र में है बांटना। भारत का विभाजन किया आपने। देश के टुकड़े किए और जो जहर बोया, आज आजादी के 70 साल बाद भी आपके उस पाप की सजा सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी भुगत रहे हैं। आंध्र प्रदेश की सहयोगी टीडीपी के नाराज होने की खबरों के बीच मोदी ने इमोशनल कार्ड खेला। उन्होंने कहा, कांग्रेस ने चुनाव को ध्यान में रखकर संसद के दरवाजे बंद करके आंध्र प्रदेश के लोगों की भावनाओं की परवाह किए बिना तेलंगाना बनाया। आज चार साल बाद भी समस्याएं सुलगती रहती हैं। इस प्रकार की चीजें आपको शोभा नहीं देतीं। आपके प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने हैदराबाद में चुने हुए लोकप्रिय दलित मुख्यमंत्री का अपमान किया था। पीएम ने नाराज सहयोगी टीडीपी को खुश करने की भी कोशिश की। उन्होंने कहा, राजीव ने खुलेआम दलित मुख्यमंत्री को अपमानित किया था। यह तेलगुदेशम पार्टी, यह एनटी रामाराव उस अपमान की आग में से पैदा हुए थे। रामाराव को उस अपमान का बदला लेने के लिए अपना फिल्म केरियर छोड़कर राजनीति में आना पड़ा था। इस देश में 90 से अधिक बार अनुच्छेद 356 का दुरुपयोग करते हुए राज्यों में उभरती पार्टियों को फेंक दिया गया। आपने पंजाब में अकालियों के साथ क्या किया? मोदी ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खड़गे को भी निशाने पर लिया, लेकिन इशारों में कर्नाटक की जनता को भी समझाने की कोशिश की। उन्होंने कहा, मैं खड़गे जी का भाषण सुन रहा था। समझ नहीं पा रहा था कि वह कर्नाटक के लोगों को संबोधित कर रहे थे कि अपने ही दल के नीति निर्धारकों को खुश करने का प्रयास कर रहे थे। उन्होंने बशीर बद्र की शायरी से शुरू किया। मैं आशा करता हूं कि उन्होंने जो शायरी सुनाई कर्नाटक के मुख्यमंत्री ने भी सुनी होगी। पीएम ने कहा, खड़गे जी ने बशीर बद्र की शायरी सुनाई 'दुश्मनी जमकर करो, लेकिन यह गुंजाइश रहे जब कभी हम दोस्त हो जाएं तो र्शिमंदा न हों। मोदी ने कहा कि बशीर बद्र की शायरी का जिक्र किया तो अच्छा होता कि उसके पहले वाली राय को भी याद कर लेते तो देश को पता चलता कि आप कहां खड़े हैं। उसी शायरी में बशीर बद्र ने कहा था, जी चाहता है कि सच बोलें, क्या करें हौसला नहीं होता। मोदी ने तानाशाही नहीं चलेगी, झूठा भाषण बंद करो, जैसे नारों के बीच दमदार तरीके से अपनी बातें रखीं। उन्होंने कहा, सुनने की हिम्मत चाहिए, मेरी आवाज दबाने के लिए इतनी कोशिश नाकाफी है। पिछली सरकार में 11 किलोमीटर नेशनल हाइवे बनते थे, आज 22 किलोमीटर बन रही। हमारी सरकार के तीन साल में एक लाख 20 किलोमीटर सड़कें बनीं। 2011 से 2014 तक सिर्फ 59 पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाए। हमने आने के बाद इतने कम समय में एक लाख से अधिक पंचायतों में एक लाख से अधिक पंचायतों में ऑप्टिकल फाइबर पहुंचाए।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS