कर्तव्य के दौरान पुलिस जवानों की शहादत हमारे लिए दु:ख के साथ गर्व का बोध कराती है:बी. के. सिंह - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Saturday, November 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • कर्तव्य के दौरान पुलिस जवानों की शहादत हमारे लिए दु:ख के साथ गर्व का बोध कराती है:बी. के. सिंह
    शहीद दिवस पर दमण-दीव-दानह पुलिस विभाग ने पुलिस ट्रेनिंग सेंटर पर शहीद पुलिस जवानों को दी श्रद्धांजलि
    - पुलिस उपमहानिदेशक ब्रिजेश कुमार सिंह, दमण पुलिस अधीक्षक विक्रमजीत सिंह,दानह पुलिस अधीक्षक शरद भास्कर दराडे ने पुष्पचक्र अर्पित कर शहीदों को दी श्रद्धांजलि - पिछले वर्ष पूरे देश में कर्तव्य का पालन करते हुए 434 पुलिस जवानों ने देश के लिए दी कुर्बानियां
    असली आजादी ब्यूरो, सिलवासा, 21 अक्टूबर। संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली पुलिस विभाग द्वारा आज पुलिस शहीद दिवस पर सायली स्थित पुलिस ट्रेनिंग सेंटर पर पुलिस शहीद दिवस श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस दौरान दमण-दीव और दादरा नगर हवेली पुलिस द्वारा संयुक्त रूप से शहीदों के सम्मान में सलामी परेड निकाली गई और सभी पुलिस अधिकारियों ने शहीद स्मारक पर पुष्पचक्र अर्पित कर अपने साथियों के शहादत को याद कर दुख के साथ गौरवान्वित भी महसूस कर रहे थे। इस अवसर पर संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली पुलिस जवानों के अलावा होमगार्डस, फायर विभाग के जवान, इंडियन रिजर्व पुलिस के जवानों द्वारा संयुक्त रूप से अपने शहीद साथियों के लिए सलामी प्रस्तुत की गई। पुलिस जवानों की तरफ से प्रस्तुत सलामी लेते हुए संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली के पुलिस उपमहानिदेशक बी. के. सिंह ने उपस्थित सभी पुलिस जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि जैसे-जैसे देश में आंतरिक सुरक्षा का खतरा बढ़ता जा रहा है वैसे-वैसे पुलिस की जिम्मेदारियां भी बढ़ती जा रही है। पिछले कई सालों से कर्तव्य पालन के दौरान प्राणों की आहुति देने वाले पुलिस वालों की संख्या कई गुना बढ़ गई है। जहां हमें अपने सहयोगियों के बिछड़ने का दुख है वहीं भारतीय पुलिस को उनके बलिदान पर गर्व भी है, जो हम सबके लिए अनुकरणीय है। 1959 में आज ही के दिन भारतीय पुलिस की एक छोटी टुकड़ी लद्दाख क्षेत्र में मातृभूमि की सुरक्षा में तैनात थी उसी समय चीनी सैनिकों के एक दस्ते ने उन पर चुपके से हमला कर दिया उस दौरान दुश्मनों का बहादुरी से सामना करते हुए हमारे कई जवान शहीद हो गए, तब से लेकर आज तक हम प्रत्येक वर्ष इसी दिन उनके शहादत के सम्मान में शहीद दिवस मनाते हैं। पिछले वर्ष पूरे देश में कर्तव्य परायण के दौरान पुलिस, पैरा मिलिट्री के जवानों, अग्निशमन के जवानों, होमगार्ड के जवानों और अन्य हमारी सुरक्षा एजेंसियों के कुल 434 जवानों ने देश की सेवा करते हुए अपनी जान देश के लिए बलिदान कर दिया। यह हम सभी के लिए दुख के साथ-साथ बड़े गर्व का विषय है कि हम अपने जवानों को आज उनकी शहादत और कर्तव्य परायणता को याद करते हैं। शहीद दिवस पर आयोजित इस कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद पुलिस उपमहानिदेशक ब्रिजेश कुमार सिंह, दमण के पुलिस अधीक्षक विक्रमजीत सिंह, दादरा नगर हवेली के पुलिस अधीक्षक शरद भास्कर दराडे, एसडीपीओ मनस्वी जैन, दानिप्स अधिकारी एन.एल.रोहित ने पुष्पचक्र शहीद स्मारक पर अर्पित कर शहीद पुलिस जवानों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद दादरा नगर हवेली सिलवासा पुलिस थाना प्रभारी के. बी. महाजन, सीआईडी प्रभारी हरीश राठौर, पीआई मनोज पटेल, पीएसआई छाया टंडेल, पीएसआई अनावल डायस, पीआई सबास्टियन, दमण के सभी पुलिस अधिकारी और आईआरबी के पुलिस अधिकारी मुख्य रूप से उपस्थित रहे।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS