दीव कॉलेज में अब इसी सत्र से शुरू होगी बीएससी माइक्रो और बीएससी मैथ्स की पढाई - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveliदमण बस डेपो से होटल प्रेसिडेंसी तक सडक चौडंीकरण के लिए माप शुरु - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Sunday, December 16, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • दीव कॉलेज में अब इसी सत्र से शुरू होगी बीएससी माइक्रो और बीएससी मैथ्स की पढाई
    - प्रशासक प्रफुल पटेल के दिशा-निर्देश में दीव प्रशासन को मिली सफलता...
    दीव 23 मई। दीव के विद्यार्थियों के लिए एक अच्छी खबर है। अब दीव कॉलेज मेंे इसी शैक्षणिक सत्र से बीएसी माइक्रो एवं बीएससी मैथ्य की पढाई शुरू होगी। इस संदर्भ में दीव कॉलेज ने सूचना जारी कर बताया है कि शैक्षणिक वर्ष 2018-19 से दीव कॉलेज में बीएससी माइक्रो एवं बीएससी मैथ्स की पढ़ाई शुरू होने जा रही है। क्योंकि बहुत दिनों से मांग की जा रही थी कि दीव कॉलेज में साइंस स्ट्रीम शुरू किया जाएं। दीव और इसके आसपास साइंस स्ट्रीम की अच्छी कॉलेज नहीं होने के कारण यहां के छात्र-छात्राओं को काफी परेशानी होती थी। उच्चतर अध्ययन के लिए उन्हें दीव से बाहर राजकोट, अहमदाबाद और गुजरात की अन्य शहरों का रूख करना पड़ता है। जैसा कि वर्ष 2013 में दीव कॉलेज की स्थापना हुई थी और स्थापना के बाद से कॉमर्स और आर्ट्स की पढ़ाई चल रही थी। स्थापना के बाद से दीव कॉलेज ने शिक्षा के क्षेत्र में अपना अहम मुकाम हासिल किया। प्रशासक प्रफुल पटेल की दूरदर्शिता और दीव की जनता को किए गए वादे के अनुसार कॉलेज में साइंस स्ट्रीम के लिए दिल से प्रयास किया। प्रशासक ने यहां के छात्र-छात्राओं की समस्याओं को समझते हुए शीघ्रातिशीघ्र कदम उठाया। उन्हीं के प्रयासों से आज दीव के छात्र-छात्राओं का उच्चतर शिक्षा के लिए दीव कॉलेज में साइंस स्ट्रीम का सपना साकार हुआ है। दीव जिला कलेक्टर और डिप्टी कलेक्टर एवं दीव कॉलेज के प्राचार्य ने भी प्रशासक के निर्देशानुसार कदम उठाये जिसके कारण इस कॉलेज में साइंस स्ट्रीम शुरू हो पायी। ज्ञातव्य हो कि इस कॉलेज में छात्रों को मुफ्त शिक्षा प्रदान की जायेगी। यह कॉलेज अब एज्युकेशन हब केवड़ी-दीव में बने नये कॉलेज भवन में चलाया जायेगा। इसके साथ ही छात्र-छात्राओं को होस्टल की सुविधा भी प्रदान की जायेगी। दूर-दराज से आने वाले छात्र-छात्राओं को विशेष रूप से होस्टल में रहने की सुविधा मिलेगी। साइंस स्ट्रीम में माइक्रो एक टेक्नीकल डिग्री है और इसकी डिग्री लेकर वे छात्र-छात्रायें रोजगार प्राप्त कर सकेंगे। इस स्ट्रीम से यहां के छात्र-छात्राओं को रोजगार के नये अवसर प्राप्त होंगे। इस स्ट्रीम को दीव कॉलेज में शुरू कराकर प्रशासन ने बहुत अच्छा काम किया है और प्रशासन को इसके लिए बहुत बहुत बधाई।

    दमण बस डेपो से होटल प्रेसिडेंसी तक सडक चौडंीकरण के लिए माप शुरु
    - डिप्टी कलेक्टर चार्मी पारेख ने मामलतदार सागर ठक्कर, पीडब्ल्यूडी सहायक इंजीनियर मयंक राणा एवं टेक्निकल स्टाफ के साथ कराया मेजरमेंट
    असली आजादी ब्यूरो, दमण 14 नवंबर। दमण प्रशासन ने नानी दमण बस स्टैंड से होटल प्रेसिडेंसी तक और राजीव गांधी सेतु से ढोलर तक के मार्ग के चौडीकरण की प्रक्रिया शुरु की है। इसी के तहत आज नानी दमण बस स्टैण्ड से होटल सुरूचि (होटल प्रेसिडेंसी) तक जाने वाले मुख्य मार्ग पर पैमाइश (मापनी) हुई। सड़क के दोनों ओर रोड मार्जिन में आने वाली इमारतों, दुकानों को चिन्हित किया गया। मार्जिन में आने वाले निर्माणों के हिस्से पर लाल निशान लगाये गये। यह प्रक्रिया डिप्टी कलेक्टर एवं एसडीएम चार्मी पारेख ने स्वयं मौजूद रहकर पूरी करायी। इस दौरान सड़क के केन्द्र से दोनों तरफ रोड मार्जिन की जमीन की माप करने के बाद लाल निशान लगाये गये। मामलतदार सागर ठक्कर एवं पीडब्ल्यूडी सहायक इंजीनियर मयंक राणा टेक्निकल स्टाफ के साथ कार्यवाही में मौजूद रहे। कुछ समय पहले ही प्रशासन ने इस सड़क के चौड़ीकरण के लिए अधिसूचना जारी की थी। रेड मार्किंग के दौरान ऐसे कई लोगों ने एसडीएम चार्मी से मिलकर डिमोलेशन को लेकर अपनी चिंता व्यक्त की। एसडीएम चार्मी पारेख ने इन लोगों से कहा कि डिमोलेशन के दौरान कम से कम नुकसान हो, इसका ख्याल रखा जाएगा। जिन लोगों की दुकानें इस रोड चौड़ीकरण में टूटेंगी उन्हें नये बनने वाली म्युनिसिपल मार्केट में प्राथमिकता के आधार पर दुकानें एलॉट करने की कोशिश होगी। एसडीएम चार्मी पारेख ने आज की पैमाइश कवायद के बारे में बताते हुए कहा कि जिनके घर, दुकानें टूटेंगी उन्हें नये सरकारी कायदे के तहत मुआवजा दिया जाएगा। लोगों को चाहिए कि विकास प्रक्रिया में नैतिक सहयोग देकर सहभागी बनें।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS