जब नेशनल मीडिया की सुर्खियां बन गए दादरा नगर हवेली के कलेक्टर कन्नन गोपीनाथन - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Monday, September 24, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • जब नेशनल मीडिया की सुर्खियां बन गए दादरा नगर हवेली के कलेक्टर कन्नन गोपीनाथन
    सिलवासा 06 सितंबर। संघ प्रदेश दादरा नगर हवेली के वर्तमान जिला अधिकारी कन्नन गोपीनाथन अक्सर अपने अनोखे कार्यों से लोगों के चहेते एवं प्रशंसा के योग्य बने रहते हैं। लेकिन पिछले दिनों दादरा नगर हवेली के कलेक्टर रहते हुए उन्होंने अपने पैतृक राज्य केरल में बाढ ग्रस्त लोगों के लिए ऐसा कुछ किया कि आज भी पूरे देश की मीडिया के सुर्खियां बन चुके हैं, बल्कि आईएएस एसोसिएशन ने भी उनके इस कार्य की प्रशंसा की है। आपको बताते हैं कलेक्टर कन्नन गोपीनाथ केरल बाढ़ पीडितों के लिए केरल में जाकर ऐसा कुछ किया कि लोग उनके कार्य की वाह-वाह करने लगे। दादरा नगर हवेली के जिला अधिकारी कन्नन गोपीनाथन 2012 बैच के एजीएमयूटी कैडर के आईएएस अधिकारी ने मिजोरम कलेक्टर रहने के बाद वे अब दादरा नगर हवेली के कलेक्टर बनाए गए हैं। मूल केरल के कोट्टयम जिले के रहने वाले कन्नन गोपीनाथन को जैसे ही केरल में बाढ़ आपदा का समाचार मिला वह दादरा नगर हवेली प्रशासन से अवकाश लेकर अपने गृह प्रदेश पहुंच गए। इस दौरान उन्होंने वहां के मुख्यमंत्री पी. विजयन से मिलकर उन्हें दादरा नगर हवेली प्रशासन की तरफ से 1 करोड रुपए की राहत धनराशि का चेक उपलब्ध कराते हुए मुख्यमंत्री को बताया कि देश का छोटा सा प्रदेश दादरा नगर हवेली के लोग केरल में आए बाढ़ से तबाह हुए लोगों को पुनर्वसन में खुले दिल से अपना सहयोग दे रहे हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री को बताया कि दादरा नगर हवेली से 10 ट्रक से अधिक राहत सामग्री केरल पहुंचाई गई है। इसके अलावा लाखों रुपए की अतिरिक्त धनराशि भी बाढ़ राहत के लिए पीडितों के लिए दादरा नगर हवेली वासियों ने डायरेक्ट मुख्यमंत्री राहत कोष में जमा कराया है। इन सब के बाद 1 हफ्ते तक जिला अधिकारी कन्नन गोपीनाथन ने कई राहत शिविरों में जाकर वहां मजदूरों की तरह काम किया और लोगों की सेवा की। इसके अलावा उन्होंने लोगों के घर भी साफ किए। उनका यह राज उस समय खुला जब 1 जिले के राहत शिविर में काम कर रहे थे उसी समय उस शिविर का जायजा लेने स्थानीय जिला अधिकारी पहुंचे, जिन्होंने उन्हें पहचान लिया और उनके सहयोगी अधिकारियों ने उनका फोटो वहां के ऑफिसर्स ग्रुप में शेयर कर दिया। धीरे-धीरे उनका फोटो देश के सभी मीडिया हाउसों तक पहुंच गया और वह अपने सेवा के कार्यों के कारण आज पूरे देश की मीडिया की सुर्खियां बन चुके हैं। इसी संदर्भ में हमारे संवाददाता ने उनसे मुलाकात कर जब इस बारे में उनसे चर्चा की तो उन्होंने कहा कि उन्हें भी कई मीडिया हाउसों से फोन आ रहे हैं और उनकी कार्यों की जानकारी मांगी जा रही है। लेकिन बाढ़ राहत शिविरों में उन्होंने जो किया वह उनके अंदर बैठे एक आम व्यक्ति की भावना है और वहां पर जो भी व्यक्ति होता जो उन्होंने किया वहीं करता और इससे उन्होंने लोगों से अपील भी किया है कि मीडिया हाइप न बनाया जाए।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS