दमण के गांवों की नारी शक्ति को शहर की नारी शक्ति के समान मौका देने के उद्देश्य से केतन एनजीओ ने शुरु किये हैं फ्री गरबा क्लासिस:अमी पटेल - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Tuesday, July 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • दमण के गांवों की नारी शक्ति को शहर की नारी शक्ति के समान मौका देने के उद्देश्य से केतन एनजीओ ने शुरु किये हैं फ्री गरबा क्लासिस:अमी पटेल
    - दमण के गांवों की युवतियों और महिलाओं को गरबा ट्रेनिंग देने के लिए केतन एनजीओ ने काल अष्टमी पर शुरु किये गरबा क्लासिस
    - मगरवाडा, जंपोर वारलीवाड, परियारी वारलीवाड, झरी में शुरु हुए गरबा क्लासिस - गांवों की युवतियों और महिलाओं मंे दिखा उत्साह - दमण के इतिहास में पहली बार गांवों में गरबा ट्रेनिंग की शुरुआत - केतन पटेल और अमी पटेल ने सभी को दी शुभकामना कहा: केतन एनजीओ हर संभव मदद करेगा - दमण के 4 से 5 चुनिंदा गरबा टीचर लगातार नवरात्रि तक गांवों की युवतियों और महिलाओं को सिखायेंगे गरबा के विभिन्न स्टेप
    असली आजादी ब्यूरो, दमण, 06 जुलाई। दमण के इतिहास में पहली बार गांवों की युवतियों और महिलाओं के लिए फ्री में गरबा ट्रेनिंग का शुभारंभ हुआ है। केतन एनजीओ और डॉ. रमणिकलाल मेडिकल रिलीफ एंड रिसर्च ट्रस्ट द्वारा मोटी दमण के दूर-दराज गांवों में आज से 4 गरबा क्लासिस का शुभारंभ हुआ। केतन पटेल और अमी पटेल ने मॉँ अंबे की आराधना कर मगरवाडा, जंपोर वारलीवाड, परियारी वारलीवाड, झरी में फ्री गरबा क्लासिस का शुभारंभ किया। उद्घाटन अवसर पर अमी पटेल ने कहा कि शहर की युवतियों और महिलाओं की तरह गांवों की नारी शक्ति को आगे बढने का और अपना हुनर दिखाने का समान अवसर देने के उद्देश्य से गरबा क्लासिस शुरु किये गये हैं। दमण में शहर और गांव के बीच कोई दूरी न रहे यह भी हमारा मकसद है। केतन पटेल ने सभी को शुभकामनाए दी और हर संभव मदद का आश्वासन भी दिया। आज चारों जगह पर गरबा सिखने का अनोखा उत्साह देखा गया। खास करके गांवों की युवतियों को अपने घर के पास नि:शुल्क गरबा ट्रेनिंग वह भी दमण के प्रसिद्ध गरबा प्रशिक्षकों द्वारा दी जा रही है यह उनके लिए काफी खुशी की बात थी। गौरतलब है कि केतन एनजीओ ने शहरी क्षेत्र की नारी शक्ति के लिए गरबा क्लासिस चलाने वाले ज्यादातर संचालकों के साथ टाईअप कर गरबा सिखने वालों को 20 से 50 प्रतिशत तक डिस्काउंट दिलवाया है। वह डिस्काउंट की राशि केतन एनजीओ खुद वहन कर रहा है। गांवों में फ्री गरबा क्लासिस शुरु करने के पीछे अमी पटेल की यह सोच है कि जंपोर, परियारी, मगरवाडा, झरी जैसे दूर-दराज के क्षेत्र से शहर में गरबा सिखने आना काफी कठीन काम है। यातायात की व्यवस्था भी इतनी ज्यादा नहीं है। ऐसे में गांवों की युवतियों और महिलाओं को उनके ही गांवों में नि:शुल्क ट्रेनिंग मिल जाये तो नवरात्रि उत्सव के समय गांवों की बेटियां भी शहर की बेटियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चल सकें और अपना हुनर दिखा सकें।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS