मोदी शासन में दमण-दीव में चल रही हिटलरशाही की आवाज लोकसभा में उठाऊंगा : राजीव सातव - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Saturday, June 23, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • मोदी शासन में दमण-दीव में चल रही हिटलरशाही की आवाज लोकसभा में उठाऊंगा : राजीव सातव
    - दमण-दीव की जनता के साथ मोदी सरकार ने किया धोखा, सीआरजेड, स्थानीय युवाओं को रोजगार, कांट्रेक्ट शिक्षकों एवं नर्सों के साथ अन्याय, प्रदूषण सहित की स्थानीय जनता की समस्या पर सांसद लालू पटेल भी मौन: कांग्रेस प्रभारी राजीव सातव - प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल ने सरकारी नौकरियों में स्थानीय युवाओं से अन्याय, डेलीवेज-कांट्रेक्ट कर्मियों और नर्सों को नौकरी से निकाल बाहर करने, सीआरजेड, रोड मार्जिन के बहाने लोगों के घरों को ढ़हाने जैसे ज्वलंत मुद्दों की अनदेखी करने पर सत्तारूढ़ भाजपा, सरकार और प्रशासन पर हमला बोला - दिलीपनगर ग्राउंड से जेटी तक जनता का हुजूम नजर आया - महिलाओं ने बडी संख्या में उपस्थित रहकर व्यक्त किया आक्रोश - कांग्रेसी विधायक जीतू चौधरी एवं कांग्रेसी नेता खुर्शीद मांजरा ने भी गगनचुंबी सूत्रोच्चार से रैली में फूंकी जान: भाजपा शासन विरोधी सूत्रोच्चार से गूंज उठा शहर
    असली आजादी ब्यूरो,
    दमण, 02 मई। दमण-दीव की जनता की समस्याओं को लेकर प्रदेश कांग्रेस ने आज दमण-दीव बचाओ जनआंदोलन के साथ संघर्ष का प्रारंभ कर दिया। अब दमण-दीव की समस्या सडक से लेकर संसद तक उठेगी इस बात के संकेत भी आज के आंदोलन के साथ जनता को मिल गये। दमण-दीव बचाओ आंदोलन में प्रमुखता से शिरकत करने आये कांग्रेस प्रभारी एवं सांसद राजीव सातव ने दमण-दीव के शासन को मोदी राज का हिटलरशाही शासन करार दिया। दमण-दीव की आम जनता के साथ हो रहे अन्याय को मंच से उठाते हुए कहा कि इस अन्याय को मैं लोकसभा में उठाऊंगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर भी तंज कसते हुए कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान दमण-दीव की जनता से बास्केट भर-भर कर वोट मांगने वाले अपने सारे वादे भूल गये। राजीव सातव ने कहा कि 2014 के लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान इसी दिलीपनगर ग्राउंड से दमण-दीव की मुख्य समस्या सीआरजेड से मुक्ति दिलाने का वादा तत्कालीन मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया था। 4 साल बीत जाने के बाद मुक्ति तो दूर ऊपर से सीआरजेड 3 की श्रेणी में दमण को डाल दिया। राजीव सातव ने कांट्रेक्ट शिक्षकों एवं नर्सों का मुद्दा उठाते हुए कहा कि हमारे स्थानीय युवा पिछले कई वर्षों से अपनी सेवाएं दे रहे थे लेकिन अब उनकी रोजगारी छीनी जा रही है। प्रदूषण की वजह से मछुआरों का धंधा चौपट हो चला है। स्थानीय प्रशासन जनता पर जुल्म ढा रहा है और भाजपा सांसद लालू पटेल मौन धारण करके बैठे हंै। राजीव सातव ने कहा कि पेट्रोल एवं डीजल के दाम आईपीएल मैच के गेंदों की गति से भागते जा रहे हैं और महंगाई आसमान छू रही है लेकिन प्रधानमंत्री और भाजपा सरकार बैठकर तमाशा देख रही है। वषार्ें से डेलीवेज और कांट्रेक्ट बेस पर काम करते आ रहे लोगों को नौकरी से निकाल बाहर करना, इतना जुल्म हो रहा है और यहां के सांसद ने चार सालों में एक बार भी ये मसला लोकसभा में नहीं उठाया। उन्होंने कहा कि मैं दमण-दीव की इन सारी समस्याओं को लोकसभा में उठाऊंगा और इसका निदान लाने की कोशिश करुंगा। उन्होंने कहा कि मुझे मालूम है कि तब के सीएम मोदी और अब के पीएम मोदी ने चुनाव प्रचार के समय यहां के लोगों से पड़ोसी धर्म निभाने का वादा किया था, पर गुजरात की ओर से किये जा रहे दमणगंगा नदी के प्रदूषण और सीआरजेड कानून हटाने के मामले में कहीं से भी नजर नहीं आता कि पीएम मोदी ने पड़ोसी धर्म निभाया। कांग्रेस प्रभारी सांसद राजीव सातव ने पीएम मोदी को निशाने पर लेते हुए कहा कि जनाब मोदी जी,चार साल तो तफरीह करते बीत गये किया कुछ नहीं,सिवाय बड़ी-बड़ी बातें करने, सब्जबाग दिखाने और सैर-सपाटे के किया ही क्या? नोटबंदी करके माताओं और बहनों के रखे हजारों रूपयों को रद्दी का ढ़ेर बना दिया। अब बचे छह महीनों में पीएम क्या करेंगे,कुछ नहीं। आनेवाले लोकसभा चुनाव में लोग पीएम मोदी और भाजपा दोनों को करारा सबक सिखायेंगे। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष केतन पटेल ने कहा कि दमण-दीव की सरकारी नौकरियों में स्थानीय लोगों की अनदेखी करके गुजरात के लोगों को नियुक्त करके स्थानीय युवाओं के साथ अन्याय किया जा रहा है। हमारे दमण-दीव के युवाओं को अपने यहां की सरकारी नौकरी नहीं मिल पा रही है । वर्षों से डेलीबेस और कांट्रेक्ट आधार पर नौकरी करके अपने परिवार का पेट पालते आ रहे स्थानीय लोगों की नौकरी छीनकर उन्हें एक झटके में सड़क पर ला दिया गया। 12 सालों से कांट्रेक्ट पर सेवा देती आ रही नर्सों की नौकरी छीनकर उन्हें भूखों मरने के लिये छोड़ दिया गया, ये लोग कहां जाएंगे? रोड मार्जिन के नाम पर लोगों के घर तोड़े जा रहे हैें। पुर्तगाली राज के समय से खेती करते और छप्पर डालकर रहते आ रहे लोगों की जमीनें छीनकर उन्हें बेरोजगार और बेघर कर दिया गया है। पीसीसी प्रेसिडेंट केतन पटेल ने गुजरात, दमण-दीव और दादरा नगर हवेली के कांग्रेस प्रभारी राजीव सातव, एआईसीसी के सेक्रेटरी जितेन्द्र भागल और वलसाड़ जिले के कपराड़ा तहसील के कांग्रेसी विधायक जीतू चौधरी की उपस्थिति में बोलते हुए कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों को भी संघ प्रशासन घोलकर पी गया और बंद कराये बार एण्ड रेस्टोरेंटों को चालू नहीं कराके लोगों को बेरोजगार बनाये रखा हुआ है। सीआरजेड कानून जो दमण-दीव में हर तरह के निर्माणों को प्रभावित करता है और जिसकी वजह से दमण-दीव का विकास अवरूद्ध पड़ा है उसे दूर करने की बजाय और सख्त बना दिया गया है। सीआरजेड-3 लगाकर दमण में नो कंस्ट्रक्शन जोन थोप दिया गया है, जिससे किसी भी तरह का निर्माण कार्य ज्यादा मुश्किल हो गया है। जनसभा के बाद जुलूस की शक्ल में लोगों का हुजूम पैदल मार्च करता हुआ दिलीपनगर से तीनबत्ती और तीनबत्ती से पुलिस स्टेशन चाररास्ता होता हुआ जेटी गार्डन स्थित गाँधी स्मारक पहुंचा, जहां पर कांग्रेस नेताओं ने गांधीजी की प्रतिमा पर फूल-मालायें चढ़ाई और दमण-दीव हितों के लिये आंदोलन जारी रखने का ऐलान किया। इस जनसभा और पैदल मार्च में कांग्रेसी नेता ईश्वर पटेल, नानू पटेल, भरत पटेल, शीलू पटेल, जयेश राणा, बहाउद्दीन बैग, जाकीर पीरवाला, रमेश सिंह गौतम, सनी दमणिया, तरंग पटेल, मयंक पटेल, सावंत पटेल, मल्लिका पटेल, दिपीकाबेन, लीलाबेन, भरत दाजी, सुरेश पटेल, नवीन कामली, हरीश पटेल, मिथुन पटेल, राजीव पटेल, संजय पटेल, मनीश पटेल, भूपेन्द्र पटेल सहित बड़ी तादाद में महिलाओं, पुरूषों, युवाओं और कांग्रेसी कार्यकर्ता की मौजूदगी रही।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS