इंडियन रिजर्व बटालियन के डिप्टी कमांडर टी. बालकृष्णन का दिल का दौरा पड़ने से निधन - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Monday, October 23, 2017
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • इंडियन रिजर्व बटालियन के डिप्टी कमांडर टी. बालकृष्णन का दिल का दौरा पड़ने से निधन
    - बिनोवा भावे सिविल अस्पताल में राजकीय सम्मान के साथ तिरंगे में लपेटकर टी. बालकृष्णन को दी गई विदायी - संघ प्रदेशों के डीआईजीपी बृजेश कुमार सिंह, कलेक्टर गौरव सिंह राजावत, एसपी शरद भास्कर दराडे, डीवायएसपी मनस्वी जैन सहित प्रशासनिक अधिकारियों ने दी श्रद्धांजलि
    सिलवासा 22 सितंबर। संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली एवं लक्षद्वीप को मिलाकर आंतरिक सुरक्षा के लिए बनाई गई रिजर्व फोर्स इंडियन रिजर्व बटालियन के डिप्टी कमांडेंट टी. बालाकृष्णन का आज दिल का दौरा पडने से सिलवासा में निधन हो गया। आज सुबह 7 बजे उनके निवासस्थान पर अचानक से दिल का दौरा पडने के बाद आईआरबी के जवानों ने टी. बालकृष्णन को सिलवासा स्थित श्री विनोबा भावे अस्पताल में भर्ती कराया गया। इस दौरान श्री बिनोवा भावे अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें भरपूर बचाने की कोशिश की लेकिन दिल का दौरा पडने के कारण उन्हें नहीं बचाया जा सका। जिसके बाद उनकी मौत हो गई। वहीं इसकी सूचना मिलने के बाद पूरा प्रशासन, पुलिस विभाग तथा इंडियन रिजर्व बटालियन के जवान एवं अधिकारी सदमे में आ गए। घटना की सूचना मिलते ही संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली के डीआईजीपी बृजेश कुमार सिंह सिलवासा अस्पताल पहुंचे। टी. बालकृष्णन को सभी पुलिस अधिकारियों एवं प्रशासनिक अधिकारियों ने राजकीय सम्मान के बीच तिरंगे में लपेटकर उन्हें आखिरी विदायी दी गई। इस दौरान टी. बालकृष्णन के पार्थिव शरीर पर सभी अधिकारियों एवं पदाधिकारियों ने श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अचानक घटित हुई दुख:द घटना से टी. बालकृष्णन का परिवार सहित तमिल समाज शोक की लहर डूब गया। टी. बालकृष्णन के पार्थिव शरीर को उनके पैतृक गांव भेजा गया। जहां उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS