भारत की पर्यटन एवं संस्कृति सचिव रश्मि वर्मा ने डब्ल्यूटीएम में आध्यात्मिकता एवं पर्यटन को किया पेश - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Saturday, November 18, 2017
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • भारत की पर्यटन एवं संस्कृति सचिव रश्मि वर्मा ने डब्ल्यूटीएम में आध्यात्मिकता एवं पर्यटन को किया पेश
    - लंदन में वर्ल्ड ट्रावेल मार्केट का हुआ भव्य आगाज - विश्व के सबसे बडे पर्यटन मेले में अतुल्य भारत एवं आध्यात्मिक भारत की दिखी झलक - असली आजादी दैनिक के संपादक विजय भट्ट एवं दमणगंगा टाइम्स के पत्रकार प्रदीप भावसार भी डब्ल्यूटीएम में हुए शरीक - भारत के विभिन्न राज्यों एवं केन्द्रशासित प्रदेशों की स्टॉलों में पेश की गई पर्यटन स्थलों की झलकियां - असली आजादी दैनिक द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 3 साल के सफर पर तैयार की गई बुक का पर्यटन सचिव रश्मि वर्मा के हाथों हुआ अनावरण - विश्व के कई देशों द्वारा स्टॉल लगाकर अपने-अपने पर्यटन स्थलों को दिया जा रहा है बढावा
    लंदन 6 नवंबर। लंदन में आज भव्य आयोजन के साथ वर्ल्ड ट्रावेल मार्केट का आगाज हुआ। विश्व के सबसे बडे इस पर्यटन मेले में विश्व के कई देशों ने अपनी-अपनी स्टॉल लगाकर दुनिया भर के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करने का प्रयास किया है। असली आजादी दैनिक के संपादक विजय भट्ट एवं दमणगंगा टाइम्स के पत्रकार प्रदीप भावसार डब्ल्यूटीएम का कवरेज करने के लिए पहुंचे है। भारत की ओर से पर्यटन सचिव रश्मि वर्मा ने भारत के इनक्रेडिबल इंडिया यानि कि अतुल्य भारत स्टॉल का उद्घाटन किया। उद्घाटन अवसर पर पर्यटन एवं संस्कृति सचिव रश्मि वर्मा ने कहा कि भारत का पर्यटन उद्योग तेजी से बढ़ रहा है। विश्व में हम 65वें पायदान पर थे लेकिन अब हम 40 से पायदान पर पहुंच चुके हैं। इसी तरह 2016 में 9 प्रतिशत पर्यटन उद्योग बड़ा है और इस साल लगभग 15% पर्यटन उद्योग में बढ़ोतरी हुई है। इस अवसर पर एडिशनल डायरेक्टर जनरल टूरिज्म मीनाक्षी शर्मा ने भी भारत के पर्यटन को लेकर अपने विचार रखते हुए कहा कि इस वर्ष भारत की थीम स्पिरिचुअल इंडिया यानि आध्यात्मिक भारत है क्योंकि भारत में आध्यात्मिक पर्यटन (स्पिरिचुअल टूरिज्म) के लिए काफी जगह है। उन्होंने कहा कि भारत पर्यटन स्थलों को एयर कनेक्टीविटी, रेल कनेक्टीविटी और सड़क कनेक्टीविटी से जोड़ रहा है ताकि पर्यटक आसानी से सभी स्थलों पर पहुंच पाए। डिप्टी हाई कमिश्नर ऑफ इंडिया, लंदन के दिनेश पटनायक ने प्रेस कांफ्रेंस में अपने विचार रखते हुए अतुल्य भारत की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि भारत में पर्यटन के अनेक बहुत ही सुंदर एवं रमणीय स्थल है, जो पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते है। इस वर्ष की आध्यात्मिक भारत थीम अस्तित्व में एकात्मकता एवं एकरूपता है। प्रेस कांफ्रेंस दौरान पर्यटन सचिव रश्मि वर्मा से पूछा गया कि दमण-दीव और गोवा पुर्तगाली संस्कृति की विरासत है, इन तीनों स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से आपस में जोड़ने के लिए भारत सरकार क्या प्रयास कर रही है?विश्व पटल पर भारत की विरासत एवं संस्कृति की छाप गहरी हो इसीलिए विभिन्न राज्यों एवं केन्द्रशासित प्रदेशों ने स्टॉल लगाकर पर्यटन स्थलों, ऐतिहासिक विरासतों, संस्कृति, भाषा को दर्शाया है। आध्यात्मिकता भारत की सदियों पुरानी संस्कृति है, इसको अलग नहीं किया जा सकता। उन्होंने कहा कि आध्यात्मिक दृष्टि से शांति के लिए पर्यटक भारत आते है। भारत में ऐसी कोई चीज नहीं है जो न हो। पर्वत, नदी, झरने, बिच, हिमालय यानि सभी तरह की धरोहरों से भारत सज्ज है। इन्हीं ऐतिहासिक धरोहरों, आध्यात्मिक अनुभव, जीवन और सृजन के गूढ़ रहस्य, गुरु के सान्निध्य में परम सत्य, उच्चतम ज्ञान और अद्वितीय आनंद का अनुभव, आध्यात्म के पथ पर अनुभव निश्चति जैसी कई सारी चीजें है जो अवर्णनीय है। उन्होंने खुशी जताते हुए कहा कि वर्ल्ड ट्रावेल मार्केट में भारत सरकार की ओर से मुझे पर्यटन को बढावा देने के लिए भेजा गया है। मेरे साथ कई और भी प्रतिनिधि आये हुए है, जिनका मैं प्रतिनिधित्व कर रही हूं। गौरतलब है कि लंदन में 6 से 8 नवंबर तक आयोजित वर्ल्ड ट्रावेल मार्केट मेला दुनिया का सबसे बड़ा पर्यटन मेला है। इस मेले में विश्व के 100 से अधिक देशों ने हिस्सा लिया है। वहीं इस पर्यटन मेले के प्लेटफार्म पर भारत के विभिन्न राज्यों एवं केंद्रशासित प्रदेशों की करीब 25 से जयादा स्टॉलें लगाई गई है। भारत सरकार वर्ल्ड ट्रावेल मार्केट के माध्यम से विश्व को भारत दर्शन कराना चाहती है यह प्रयास भारत सरकार द्वारा 2002 से शुरू किया गया था। 2002 में भारत सरकार ने इनक्रेडिबल इंडिया यानि कि अतुल्य भारत का नारा देकर पूरी दुनिया को भारत की ओर देखने के लिए मजबूर किया था। आज भी वर्ल्ड ट्रावेल मार्केट में ज्यादातर पर्यटक भारत की विभिन्न स्टॉलों पर पहुंचकर विभिन्न पर्यटन स्थलों एवं भारत से जुड़ी जानकारी लेते हुए नजर आए। आज इस प्रसिद्ध ट्रावेल मेले में असली आजादी दैनिक द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के 3 साल के सफर पर तैयार की गई बुक को भी लाँच किया। पर्यटन सचिव रश्मि वर्मा के हाथों प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की इस बुक का अनावरण हुआ। साथ ही इस मेले में दमण-दीव प्रशासन द्वारा 365 पर जो बुक तैयार की गई थी उसे भी दमण से प्रकाशित असली आजादी दैनिक के संपादक विजय भट्ट एवं दमणगंगा टाइम्स के पत्रकार प्रदीप भावसार द्वारा पर्यटन सचिव एवं अन्य महानुभावों को भेंट की गई। भारत सरकार के इंडिया टूरिज्म लंदन के आसिस्टेंट डायरेक्टर सी. गंगाधर, टूरिज्म कॉर्पोरेशन ऑफ गुजरात लिमिटेड ऑफ इंडिया के विश्वास किंगशुक चितरंजन ने भी डब्ल्यूटीएम हिस्सा लिया है।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS