प्रशासक प्रफुल पटेल ने मलाला ऑडिटोरियम में दीववासियों के समक्ष बयां की नये दीव की तस्वीर - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Saturday, November 18, 2017
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • प्रशासक प्रफुल पटेल ने मलाला ऑडिटोरियम में दीववासियों के समक्ष बयां की नये दीव की तस्वीर
    - पर्यटन दीव के लोगों की आजीविका से सीधा जुड़ा है, इस क्षेत्र के विकास के बिना संपूर्ण विकास का स्वप्न साकार करना असंभव है : प्रशासक प्रफुल पटेल - अगले एक साल में हमको एक नया दीव देखने को मिलेगा : प्रशासक के सलाहकार एस. एस. यादव - दमण-दीव में विकास की गंगा बहाने के लिए प्रशासक प्रफुल पटेल हिम्मतनगर से हिम्मत लेकर आये है : सांसद लालू पटेल - भावी प्रोजेक्टों के प्रेजेंटेशन में दीववासियोंे ने देखी नये दीव की झलकियां - खुकरी मेमोरियल एवं चक्रतीर्थ बिच अत्याधुनिक सुविधाओं से होंगे सुसज्जित - प्रशासक ने फुदम के पक्षी अभ्यारण्य में 'राशि वन' एवं 'नक्षत्र वन' के निर्माण की कही बात - दीव में आने वाले पर्यटकों को अब कुदरती अनुभूति के साथ आध्यात्मिकता का होगा अनुभव
    असली आजादी ब्यूरो, दीव 6 नवंबर। संघ प्रदेश दमण एवं दीव प्रशासन द्वारा दीव जिले के मलाला ऑडिटोरियम में दोपहर 2:30 बजे 'न्यू दीव-न्यू इंडिया' कार्यक्रम का आयोजन हुआ। इस अवसर पर प्रशासक ने दीव के सुंदर भविष्य की रूपरेखा प्रस्तुत करते हुए कई महत्वपूर्ण एवं महत्वाकांक्षी योजनाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 1961 से लेकर अब तक भारत सरकार द्वारा लगभग 12 से 15 हजार करोड़ रूपये की राशि दमण एवं दीव के विकास पर खर्च की गई, परंतु यहां के विकास कार्यों को देखकर ऐसा लगता नहीं है कि पर्याप्त रूप में विकास हो पाया है। उन्होंने कहा कि दीव एक दिव्य भूमि है। यहां के नागरिक अत्यंत भोले-भाले हैं और सही बात है, जहां परमात्मा की कृपा बरसती हो, तो लोग सरल और सीधे-साधे हो ही जाते हैं। उन्होंने कहा कि दीव में पर्यटन और फिशिंग के क्षेत्र में अपार संभावनाएं हैं, परन्तु साहस और पुरूषार्थ के बिना सफलता नहीं मिलती। उन्होंने कहा कि जितना 400 साल में विकास नहीं हुआ वह एक वर्ष में करने की कोशिश की जा रही है, बस संयम और भरोसा रखने की जरूरत है। सरकारी जमीनों पर हुए अतिक्रमण पर प्रशासक ने कहा कि प्रशासन किसी भी हाल में ऐसी गतिविधि को बर्दाश्त नहीं करेगा। स्वच्छता अभियान के तहत दीव को 'खुले में शौच से मुक्त' घोषित किए जाने पर उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की और जिला प्रशासन तथा लोगों को धन्यवाद दिया।
    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सबको पक्के घर देने के सपने को साकार करने के क्रम में उन्होंने कहा कि संघ प्रदेश प्रशासन ने 2022 तक लगभग 400 व्यक्तियों को पक्का घर मुहैया कराने का निर्णय लिया है। प्रशासक प्रफुल पटेल ने लोगों से कहा कि ये सभी काम करके प्रशासन आपके ऊपर कोई उपकार नहीं कर रहा है, बल्कि यह प्रशासन का दायित्व है। उन्होंने दीव में पीने का पानी उपलब्ध कराने के मुद्दे पर कहा कि इससे संबंधित योजना पूरी हो गई है और जल्द ही सबको ट्रीटेड पानी पीने को मिलने लगेगा। उन्होंने सभी से पानी बचाने की भी अपील की।
    मछुआरों की आर्थिक स्थिति में सुधार के विषय पर बोलते हुए प्रफुल पटेल ने कहा कि प्रशासन इनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने का भरपूर प्रयास कर रहा है। डीजल पर लगने वाले टैक्स से मुक्ति के लिए प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा जा चुका है। पर्यटन उद्योग पर अपना दृष्टिकोण रखते हुए उन्होंने कहा कि पर्यटन दीव के लोगों की आजीविका से सीधा जुड़ा हुआ है। यदि इस क्षेत्र का पर्याप्त विकास न हो तो संपूर्ण विकास का स्वप्न साकार नहीं हो सकता । उन्होंने बताया की दीव के ऐतिहासिक किले को भारत सरकार ने देश की 100 संरक्षित स्मारकों में शामिल कर लिया है। किले में लाइट एवं साउंड शो के जरिए अमिताभ बच्चन की आवाज में लोगों को इसकी ऐतिहासिकता के बारे में बताया जाएगा। दीव में युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के क्रम में उन्होंने कहा कि स्थानीय गाइड के रूप में 23 लोगों का चयन किया गया है। दीव को दमण तथा दूसरे शहरों से जोड़ने पर उन्होंने बताया कि दीव से दमण के बीच हेलीकॉप्टर सेवा आरंभ की जाएगी। दमण में सारी तैयारियां लगभग-लगभग पूरी कर ली गई हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दमण दौरे के समय इस सेवा को हरी झंडी दिखाने का विचार है। इसके अलावा दीव से मुंबई तक कैटामरीन सेवा तथा दीव से अहमदाबाद तक हवाई सेवा शुरू करने के बारे में भी उन्होंने विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने हेलीकॉप्टर के जरिए दमण व दीव दर्शन की बात तथा दीव में एक अद्यतन बस स्टैंड के निर्माण की बात भी बताई। इसके अलावा उन्होंने कहा नागवा और घोघला बिच का ब्यूटीफिकेशन किया जाएगा। दीव किले के सौन्दर्यीकरण का काम चल रहा है तथा खुकरी मेमोरियल एवं चक्रतीर्थ बिच को भी अत्याधुनिक सुविधाओं से सुसज्जित कर सुंदर बनाया जाएगा। प्रशासक ने फुदम के पक्षी अभ्यारण्य में 'राशि वन' एवं 'नक्षत्र वन' के निर्माण की भी बात बताई। इसके अलावे प्रशासक ने दीव के तीनों सर्किट हाउसों के नवनिर्माण की बात भी बताई। उन्होंने कहा कि इन सर्किट हाउसों को अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस किया जाएगा। इसके अलावा केवड़ी में एक पांच सितारा होटल तथा गोल्फ कोर्स का भी निर्माण किया जाएगा ताकि यहां आने वाले पर्यटकों को विश्वस्तरीय सुविधा का लाभ मिल सके ।
    आधुनिक और उच्च शिक्षा मुहैया कराने पर उन्होंने कहा कि दीव के केवड़ी में एज्युकेशन हब के निर्माण के बारे में जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि एक ही जगह पर कॉलेज, पॉलिटेक्निक आदि संस्थान स्थापित किए जाएंगे। अंत में उन्होंने कहा कि 400 करोड़ रूपये की लागत से दीव का और 500 करोड़ रूपये की लागत से दमण का सर्वाधिक विकास कार्य किये जायेगा।। ये सभी प्रोजेक्ट आने वाले एक-डेढ़ साल में पूरे हो जाएंगे। प्रशासन इसके लिए भरपूर प्रयास कर रहा है। उन्होंने सभी से दीव के विकास में सक्रिय रूप से भागीदार होने की अपील की। इसके पहले कार्यक्रम की औपचारिक शुरूआत के बाद प्रशासक के सलाहकार एस. एस. यादव ने बडी संख्या में उपस्थितजनों के समक्ष दीव के चहुमुंखी विकास की एक संक्षिप्त रूपरेखा प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि हमारे प्रधानमंत्री का सपना है 'एक नए भारत का निर्माण', प्रधानमंत्री दिन-रात भारत को आगे बढ़ाने के लिए प्रयत्नशील हैं। दीव के विकास के लिए प्रशासक प्रफुल ने भी बहुत चिंतन-मनन किया। प्रशासक ने प्रदेश की शिक्षा, पर्यटन, मत्स्योद्योग आदि के लिए एक विजन तैयार किया है। इस विजन को मूर्त रूप देने के लिए योजना बनाई गई है। दमण एवं दीव को बदलने की शुरूआत हो गई है। अगले एक साल में एक नए दीव का निर्माण हो जाएगा। प्रशासक प्रफुल पटेल की रात-दिन काम करने की शक्ति और मोटिवेशन के चलते ही हम आगे बढ़ रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जिला पंचायत और नगरपालिका के सहयोग के बिना हम आगे नहीं बढ़ पाएंगे। अपने स्वागत उद्बोधन में एस. एस. यादव ने कहा कि हमें आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि आप सबके सहयोग से अगले एक साल के भीतर हम सबको एक नया दीव देखने को मिलेगा। इसके बाद दमण-दीव सांसद लालू पटेल ने प्रशासक, अधिकारियों एवं उनकी समर्पित टीम को 'नया दीव-नया भारत' अभियान के तहत दमण-दीव के सर्वांगीण विकास के लिए अनवरत प्रयास के लिए आभार व्यक्त किया। सांसद ने प्रशासक की दूरदर्शी सोच एवं साहसिक कदम की सराहना करते हुए कहा कि आप हिम्मतनगर से आकर अत्यंत हिम्मत के साथ दमण-दीव में विकास की गंगा बहाने का काम कर रहे हैं, इसके लिए हम आपके आभारी हैं और यह विश्वास दिलाते हैं कि आपके इस पुनित कार्य में हम सभी प्रदेशवासी जी-जान से समर्पित होकर सहयोग करेंगे। इसके बाद दीव के संपूर्ण भावी प्रोजेक्टों को प्रेजेंटेशन के जरिए लोगों के सामने प्रस्तुत किया गया। आज के कार्यक्रम में पर्यटन सचिव पूजा जैन, दीव कलेक्टर हेमंत कुमार, डिप्टी कलेक्अर डॉ. अपूर्व शर्मा, डीआईजीपी बी. के. सिंह, सीओ वंदना राव, दीव जिला पंचायत उपप्रमुख अश्विनी भरत, दीव म्युनिसिपल प्रमुख हितेश सोलंकी, सरपंचों, पंचायत सदस्यों, जिला पंचायत सदस्यों, अग्रणियों, वरिष्ठ नागरिकों समेत बडी संख्या में दीव की जनता मौजूद रही।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS