प्रफुल पटेल ने स्थानीय युवाओें के हितों को रखा सुरक्षित: डोमिसाइल धारकों को 20 अंक पूर्वानुसार ही मिलेंगे - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Thursday, July 27, 2017
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • प्रफुल पटेल ने स्थानीय युवाओें के हितों को रखा सुरक्षित: डोमिसाइल धारकों को 20 अंक पूर्वानुसार ही मिलेंगे
    - प्रशासक प्रफुल पटेल ने दमण-दीव मुक्ति दिवस पर किये वादे को निभाया:सरकारी नौकरियों में पारदर्शिता के लिए दमण एवं दीव कर्मचारी चयन बोर्ड की हुई स्थापना
    दमण 8 मई। सरकारी नौकरियों में भर्ती की प्रक्रिया को पारदर्शी एवं निष्पक्ष बनाने के लिए एक उल्लेखनीय कदम उठाते हुए आज संघ प्रदेश दमण एवं दीव के कार्मिक विभाग ने कर्मचारी चयन बोर्ड की स्थापना से संबंधित अधिसूचना जारी की है। यह कर्मचारी चयन बोर्ड दमण एवं दीव में प्रशासन के अधिकार क्षेत्र के अंतर्गत सम्मिलित पदों की भर्ती करेगा। इस संदर्भ में दमण-दीव प्रशासन कार्मिक एवं प्रशासनिक सुधार विभाग की उपसचिव गुरप्रीत सिंह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि इस बोर्ड के गठन के कारण संघ प्रदेश प्रशासन के कार्मिक विभाग के नियमों, आदेशों एवं दिशा-निर्देशों में किसी भी प्रकार का परिवर्तन नहीं आएगा। यह बोर्ड मौजूदा दिशा-निर्देशों के अनुसार ही भर्तियां करेगा और पूर्वानुसार डोमिसाइल अभ्यर्थियों के लिए निर्धारित 20 अंक स्थानीय अभ्यर्थियों के हितों को सुरक्षित रखने की दृष्टि से लागू रहेंगे। भर्ती बोर्ड की स्थापना से यह भी सुनिश्चित किया जा सकेगा कि भर्ती प्रक्रिया के लिए स्थायी निकाय की स्थापना हो। यह कर्मचारी चयन बोर्ड भर्ती प्रक्रिया पारदर्शी एवं उचित तरीके से करेगा। गौरतलब है कि प्रशासक के रूप में प्रफुल पटेल ने पदभार संभालते ही अपने उद्बोधन में कहा था कि प्रशासनिक व्यवस्था पूरी तरह पारदर्शी एवं निष्पक्ष होगी। दादरा नगर हवेली कर्मचारी चयन बोर्ड का गठन करना प्रशासक का पारदर्शिता एवं निष्पक्षता का उदाहरण है। आज दमण एवं दीव के लिए कर्मचारी चयन बोर्ड की स्थापना से यह साबित हो गया है कि योग्यता एवं क्षमता के आधार पर अब सरकारी नौकरियां मिलेगी। साथ ही चयन बोर्ड में स्थानीय अभ्यर्थियों के लिए निर्धारित 20 अंक भी सुरक्षित रखे गये है ताकि स्थानीय उम्मीदवारों के हितों को सुरक्षित रखा जाये। कर्मचारी चयन बोर्ड के माध्यम से प्रशासन के अधिकार क्षेत्र में होने वाली सभी भर्ती प्रक्रियाएं पारदर्शी एवं निष्पक्ष होगी तो प्रशासनिक व्यवस्था में भी सुधार आयेगा। साथ ही योग्यता एवं क्षमता रखने वाले योग्य उम्मीदवारों को मौका मिलेगा तो प्रशासनिक कार्यशैली में बदलाव भी आयेगा। गौरतलब है कि 1990 से 2016 तक सरकारी भर्तियों में ज्यादातर नेताओं, अफसरों, उद्योगपतियों एवं समाज में रसूख रखने वाले लोगों के परिवार जनों को ही सरकारी नौकरियां मिली है। प्रशासक प्रफुल पटेल ने अपने पहले ही मुक्ति दिवस के अभिभाषण में दमण-दीव में भर्ती बोर्ड के गठन का वादा किया था। जबकि दादरा नगर हवेली में गणतंत्र दिवस पर दादरा नगर हवेली के लिए भी भर्ती बोर्ड के गठन की घोषणा की थी। प्रशासक के ऐलान के बाद स्थानीय लोगों मंे इस बात को लेकर आशंका थी कि भर्ती बोर्ड के गठन के बाद स्थानीय डोमिसाइल धारकों को भर्ती प्रक्रिया के दौरान जो 20 अंक मिल रहे हैं उसमें शायद परिवर्तन होगा या कटौती होगी। लेकिन प्रशासक के सीधे मार्गदर्शन में गठित हुए दादरा नगर हवेली एवं दमण-दीव के भर्ती बोर्ड के ऐलान में प्रशासन ने स्पष्ट कर दिया कि स्थानीय युवाओं को डोमिसाइल के 20 अंक पूर्वानुसार मिलते रहेंगे।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS