जिनके पास कला होती है उसके उपर ईश्वर की कृपा होती है: प्रफुल पटेल - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Wednesday, January 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • जिनके पास कला होती है उसके उपर ईश्वर की कृपा होती है: प्रफुल पटेल
    - पूरे देश से आदिरंग महोत्सव में आये कलाकारों का दमण-दीव प्रशासन द्वारा किया भव्य सम्मान
    - पूरे भारत से आये कलाकारों को देखकर आज यहां अखंड भारत का दर्शन हो रहा है: प्रशासक - प्रशासक प्रफुल पटेल ने अपने निवासस्थान पर कार्यक्रम आयोजित कर सभी कलाकारों को दिये उपहार - सांसद लालू पटेल, डीएमसी प्रेसिडेंट शौकत मिठाणी एवं उनकी टीम, जिला पंचायत अध्यक्ष सुरेश पटेल एवं उनकी टीम के हाथों कलाकारों को दिये गये चेक एवं उपहार - दमण में हमें जो मान-सम्मान एवं स्नेह मिला है उसके लिए नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के पदाधिकारियों, कलाकारों की ओर से प्रफुलभाई पटेल का हमेशा ऋणी रहूंगा : प्रो. वामन केन्द्रे - राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के निदेशक प्रो. वामन केन्द्रे ने कहा: मेरे 35 साल के कैरियर में पहली बार कलाकारों को इतना सम्मानित करते देखा
    असली आजादी ब्यूरो, दमण 17 दिसंबर। संघ प्रदेश दमण-दीव एवं दादरा नगर हवेली प्रशासक प्रफुल पटेल ने दमण मंे आयोजित आदिरंग महोत्सव में हिस्सा लेने देश भर से आये कलाकारों के लिए अपने निवासस्थान पर कार्यक्रम आयोजित कर उन्हें मान-सम्मान देने के साथ उपहार भेंट किया। इस दौरान सांसद लालू पटेल, डीएमसी प्रेसिडेंट शौकत मिठाणी एवं उनकी टीम, जिला पंचायत अध्यक्ष सुरेश पटेल एवं उनकी टीम के हाथों कलाकारों को चेक एवं उपहार देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर प्रशासक प्रफुल पटेल ने कलाकारों को संबोधित करते हुए कहा कि जिनके पास कला होती है उनके उपर ईश्वर की कृपा होती है। कलाकारों की प्रतिभा को सराहने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित किया गया। प्रशासक ने कहा कि हमने अपने अधिकारियों के सुझाव पर यह कार्यक्रम रखा। उन्होंने कहा कि कई कलाकार दुर्गम परिस्थिति में आंतरिक कला से अपने को आनंदित करते है और हमें भी इसका आनंद देते है। हम उम्मीद जताते है कि आज हमने आपसेे जो नाता बनाने की कोशिश की है उसके लिए आप हमारे अधिकारियों को और दमण-दीव को सदैव याद रखेंगे। आप यहां से किसी और प्रदेश में जायेंगे तो याद रखेंगे कि हम दमण-दीव गये और हमें वहां इतना प्यार एवं स्नेह मिला था। पूरे देश में जिस राज्य में भी आदिवासी समाज के लोग रहते है वहां-वहां से कलाकार दमण आये हुए है। पूरे देश से आये हुए कलाकारों को देखकर लगता है कि यहां अखंड भारत मौजूद है, हम अंखड भारत का दर्शन कर सकते हैं। प्रशासक प्रफुल पटेल ने उपस्थित कलाकारों से कहा कि हमने जो आज यह प्रयास किया है आपको पसंद आया होगा। इस अवसर पर राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के निदेशक प्रो. वामन केन्द्रे ने खुशी जताते हुए कहा कि स्कूल का डायरेक्टर बनने के बाद मेरे जीवन में यह पहला मौका है कि नेशनल स्कूल ड्रामा के कलाकारों का सम्मान किया जा रहा है। वामन केन्द्रे ने कहा कि जो संवेदनशील होता है, कला से प्रसन्न होता है, कला की कद्र करने वाला होता है ऐसा व्यक्ति प्रफुल पटेल के अलावा कोई और नहीं हो सकता। 500 से 550 कलाकारों का सम्मान करना हमारे लिए गर्व की बात है। उन्होंने कहा कि हमारे कलाकारों को जो चेक या उपहार दिये गये है वह मायने नहीं रखता, चेक के पीछे जो बडा दिल है वह हमारे लिए महत्वपूर्ण है। वामन केन्द्रे ने कहा कि हमारा 20वां आदिरंग महोत्सव कार्यक्रम है। 20वें कार्यक्रम में दमण प्रशासन के मुखिया ने हमें जो मान-सम्मान एवं स्नेह दिया है, इसके लिए हम नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा के पदाधिकारियों, कलाकारों की ओर से प्रफुलभाई पटेल का हमेशा ऋणी रहूंगा। आप से प्रेरणा लेकर अन्य राज्यों के प्रमुखों को भी कला सम्मान करना चाहिए। जिस देश में कला सम्मान होता है वह देश महान होता है। उन्होंने कहा कि मैं एक खुद कलाकार हूं, अबतक मैने 5 हजार से ज्यादा नाट्य एपिसोड कर चुका हूं। इस अवसर पर काउंसिलर परसिस दमणिया, जयंती पटेल, अस्पी दमणिया, ईरा लाला, खुशमन ढीमर, जि. पं. सदस्य सविता नानू पटेल, सतिष पटेल, रंजना हलपति, नरेश पटेल, नानू पटेल, हरीश टंगाल, सरकारी अधिकारियों में प्रशासक के सलाहकार एस. एस. यादव, पर्यटन सचिव पूजा जैन, जिला कलेक्टर संदीप कुमार, डीआईजीपी बी. के. सिंह. एसपी सेजू पी. कुरुविला एवं मेघना यादव, डिप्टी कलेक्टर चार्मी पारेख, गुरप्रीत सिंह, नितीन जिंदल, पी. एस. जानी, राकेश कुमार, पी. एस. मंगेरा , डॉ. एम. बी. सापरा, डॉ. एस डी. भारद्वाज, प्रशासक के ओएसडी एम.एस. गोहिल सहित बडी संख्या में कलाकार एवं अधिकारियों तथा जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति रही। कार्यक्रम का सफल संचालन डीएमसी सीओ वैभव रिखारी ने किया।
    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS