प्रशासक प्रफुल पटेल ने पर्यटन, आपूर्ति, स्थानीय स्वराज संस्थाओं की गुणवत्ता, योजनाओं के अमलीकरण सहित के निर्देश किये जारी - Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli Asli Azadi Hindi News paper of Union territory of daman-diu & Dara nagar haveli
  •  

  • RNI NO - DDHIN/2005/16215 Postal R.No.:VAL/048/2012-14

  • देश-विदेश
  • विचार मंथन
  • दमण - दीव - दानह
  • गुजरात
  • लिसेस्टर
  • लंदन
  • वेम्बली
  • संपर्क

  •         Saturday, November 17, 2018
  • Gallery
  • Browse by Category
  • Videos
  • Archive
  • संपादक : विजय भट्ट सह संपादक : संजय सिंह । सीताराम बिंद
  • प्रशासक प्रफुल पटेल ने पर्यटन, आपूर्ति, स्थानीय स्वराज संस्थाओं की गुणवत्ता, योजनाओं के अमलीकरण सहित के निर्देश किये जारी
    - प्रशासक प्रफुल पटेल ने दीव के कार्यालय प्रमुखों के साथ बैठककर कार्यालयीन क्रियाकलापों की ली जानकारी
    - केन्द्रशासित प्रदेश दीव के लिए आनेवाला पेट्रोल, डीजल की कालाबाजारी तो नहीं हो रही उसकी जांच करने का प्रशासक ने दिया आदेश - दीव महोत्सव वाइब्रेंट गुजरात की तर्ज पर करने का भी प्रशासक ने दिया निर्देश - दीव जिला पंचायत, दीव म्युनिसिपालिटी एवं विभिन्न पंचायतों में चल रही परियोजनाओं की रिपोर्ट प्रस्तुत करें: प्रफुल पटेल - प्रशासक ने सभी स्थानीय स्वराज संस्थाओं द्वारा चलाई जा रही परियोजनाओं की गुणवत्ता की जांच हेतु पीडब्ल्यूडी के इंजीनियरों को दिया निर्देश - दीव के अधिकार क्षेत्र सिम्बर बिच की वर्तमान स्थिति एवं वहां चल रही गतिविधियों की रिपोर्ट एसपी से की तलब - मध्याहन भोजन योजना के अंतर्गत बच्चों को दिये जाने वाले भोजन की गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने कीभी प्रशासक ने कही बात - प्रशासक ने सभी कार्यालय प्रमुखों को सरकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों, विशेषकर जन-धन योजना, पेंशन योजना, डिजीटल इंडिया, बेटी बचाओ-बेटी पढाओ, उज्जवला योजना, आधार पंजीकरण, डी.बी.टी. एवं स्वच्छता अभियान को पूरी तत्परता एवं पारदर्शिता के साथ लागू कराने का दिया निर्देश
    (भारती भट्ट) दीव 03 अक्टूबर। संघ प्रदेश दमण एवं दीव प्रशासक प्रफुल पटेल ने अपने दीव दौरे के तीसरे दिन जलंधर सर्किट हाउस के सभागार में आज सुबह 10 बजे दीव के सभी कार्यालय प्रमुखों, दीव म्युनिसिपल प्रमुख एवं सभी ग्राम पंचायतों के सरपंचों की एक बैठक बुलाई। इस बैठक में दमण एवं दीव के वित्त सचिव विक्रम सिंह मलिक, दीव कलेक्टर पी. एस. जानी, चीफ इंजीनियर संजीव कुमार, दीव म्युनिसिपल प्रमुख, एक्जीक्यूटिव इंजीनियर एम.आर. इंग्ले सहित जिला प्रशासन के तमाम अधिकारी एवं सरपंच उपस्थित रहे। इस दौरान प्रशासक प्रफुल पटेल ने बारी-बारी से सभी कार्यालयों के कामकाज, उनके लक्ष्य, उनकी उपलब्धियों एवं उनकी समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त की। प्रशासक ने दीव फायर स्टेशन के कामकाज और वहां उपलब्ध संसाधनों, विशेषकर फायर फाइटर विंग के बारे में जानकारी हासिल की। फायर अधिकारी ने बताया कि दीव में एक फायर फाइटर विंग कार्यरत है। फायर अधिकारी ने फायर स्टॉफ को स्टेशन परिसर में ही रुम उपलब्ध कराने का अनुरोध प्रशासक के समक्ष किया। प्रशासक ने अपनी सहमति जताई तथा संबंधित अधिकारी को इस दिशा में कदम उठाने के निर्देश दिए। पुलिस विभाग के क्रियाकलापों पर चर्चा करते हुए उन्होंने पुलिस अधीक्षक समीर शर्मा को यह निर्देश दिया कि सिम्बर बिच की वर्तमान स्थिति और वहां चल रही गतिविधियों के बारे में तत्काल रिपोर्ट प्रस्तुत करें। बैठक में दीव में जन्म पंजीकरण पर भी चर्चा हुई। प्रशासक प्रफुल पटेल को यह जानकारी दी गई कि कतिपय कारणों से दीव के बच्चों का दीव से बाहर जन्म होने के कारण दीव में उनके जन्म का पंजीकरण करना संभव नहीं हो पाता है। प्रशासक ने कहा कि यह एक कानूनी मामला है और इसके लिए विधि विभाग से सलाह के बाद ही कोई निर्णय लिया जा सकता है। बैठक में प्रशासक ने दीव में लाइसेंसधारी खुदरा एवं थोक शराब विक्रेताओं की संख्या से संबंधित डाटा रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए आबकारी विभाग को निर्देश दिया। उन्होंने दीव में डीजल की मांग, आपूर्ति और खपत के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने संबंधित अधिकारियों को यह निर्देश दिया कि वे पर्याप्त रूप से इसकी जांच करें कि कहीं दीव में आपूर्ति किए जाने वाले डीजल की कालाबाजारी तो नहीं हो रही है। प्रशासक ने पर्यटन विभाग से दीव में आए विदेशी पयर्टकों के पिछले पांच साल के आंकड़े प्रस्तुत करने को कहा। उन्होंने दीव में अधिक से अधिक संख्या में पर्यटकों को आकर्षित करने हेतु सुझाव भी मांगे। प्रशासक दीव की नैसर्गिक सुंदरता से बहुत प्रभावित हुए। उन्होंने कहा कि दीव का खुकरी मेमोरियल एक अद्भुत स्थल है। यहां पर बने हुए ओपन एयर थियेटर में अधिक से अधिक संख्या में कार्यक्रम आयोजित करने की सलाह दी। इसके लिए दीव के बाहर से भी कलाकारों को बुलाने का निर्देश दिया। बैठक में दीव की शिक्षा व्यवस्था पर चर्चा करते हुए उन्होंने ड्राप आउट होने वाले बच्चों की संख्या पर अपनी चिंता जाहिर की। सहायक शिक्षा निदेशक को इस ओर प्रभावी कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि मध्याह्न भोजन योजना के अंतर्गत स्कूलों में बच्चों को दिए जाने वाले भोजन की गुणवत्ता का विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। बैठक में प्रशासक ने यह निर्देश दिया कि सभी कार्यालय प्रमुख सरकारी योजनाओं एवं कार्यक्रमों, विशेषकर जन-धन योजना, पेंशन योजना, डिजीटल इंडिया, बेटी बचाओ-बेटी पढाओ, उज्जवला योजना, आधार पंजीकरण, डी.बी.टी. एवं स्वच्छता अभियान आदि को पूरी तत्परता एवं पारदर्शिता के साथ लागू करे। इसमें किसी भी तरह की ढील बर्दास्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि दीव में 19 दिसंबर 2016 तक आधार पंजीकरण का काम पूरा हो जाना चाहिए। स्वच्छता पर विशेष ध्यान देते हुए उन्होंने सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट के जरिए कचरा को एक ही जगह पर डम्प कर उसका निपटान करने की सलाह दी। प्रशासक ने मलाला में बने ऑडिटोरियम के सदुपयोग की बात कही। उन्होंने एक ऐसी रूपरेखा तैयार करने का निर्देश दिया जिससे प्रत्येक सप्ताह ऑडिटोरियम में कोई न कोई कार्यक्रम आयोजित हो सके। दीव महोत्सव के आयोजन को लेकर उन्होंने निर्देश दिया कि वाइब्रेंट गुजरात की तर्ज पर इस महोत्सव को मनाया जाए। इसके लिए इसे दो पार्ट में मनाया जा सकता है। उन्होंने महोत्सव में गोवा एवं अन्य दूसरे राज्यों के चोटी के कलाकारों को भी बुलाने के निर्देश दिए। प्रशासक प्रफुल पटेल ने बैठक में पंचायत और दीव नगरपालिका परिषद द्वारा अलग-अलग जगहों पर चल रही परियोजनाओं की रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा और इसकी गुणवत्ता की जांच हेतु लोक निर्माण विभाग के इंजीनियरों को निर्देश दिए। उन्होंने नए बन रहे जीम में पुस्तकालय की सुविधा भी उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। बैठक के आरंभ में दीव कलेक्टर पी. एस. जानी ने सभी का स्वागत किया।

    FLICKER
    Download Asliazadi's apple and android apps
    फोटो गैलरी
    वीडियो गैलरी
    POLLS